All Posts - सभी पोस्ट्स Health Tips - स्वस्थ रहने के उपाय Information and Knowledge - ज्ञान की बातें Self Improvement खुद को बेहतर बनाने के टिप्स

जानिए वो मंत्र जिससे आपका जीवन रहे खुशहाल !

हम सभी हमेशा खुश रहना चाहते है। क्योंकि हमारी ख़ुशी हमारे पुरे जीवन को प्रभावित करता है। हमारे लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करती है। खुश रहने से शरीर में एक अलग सी ऊर्जा आती है जो हमारी रोजमर्रा के समस्याओं से लड़ने में काफी हद तक हमारी मदद करती है।

खुश रहना मनुष्य का जन्म का ही स्वाभाव होता है। आपने छोटे बच्चों को देखा जो हमेशा खुश रहते है उनके सामने कोई रोता हुआ इंसान भी हंस देता है। आखिर एक छोटा बच्चा अक्सर खुश क्यों रहता है ? क्यों हम कहते हैं कि बचपन के दिन Golden days होते हैं ? क्योंकि हम बचपन से ही खुशमिजाज पैदा होते है। लेकिन

जैसे -जैसे हम बड़े होते हैं हमारी जीवनशैली, हमारा समाज हमारे अन्दर Impurity घोलना शुरू कर देता हैं। हम जितने बड़े होते है उतनी ही जिम्मेदारियों का पहाड़ हमारे ऊपर बढ़ने लगता है। उन्ही जिम्मेदारियों के बीच हमारी खुशी कही खो जाती है।

हमारी ख़ुशी को डोपामाइन नामक न्यूरोकेमिकल हार्मोन प्रभावित करता है। ये हार्मोन जितना ज्यादा मात्रा में होगा उतना ही हमारे जीवन को अंदर से सकारात्मक मनोभावना और ख़ुशी से भर देता है। ये हमारे भीतर हमारे लक्ष्यों को हासिल करने की लालसा उत्पन्न करता है। साथ ही तनाव व अवसाद से मुक्त रहने में मदद मिलती है। वही डोपामाइन का निम्न मात्रा की वजह से आपके ख़ुशी और उत्साह में कमी हो जाती है।



वैसे तो हमारा दिमाग इस न्यूरोकेमिकल के मात्रा को Automatic maintain करता है। लेकिन कुछ उपायों को अपनाकर इसके मात्रा में वृद्धि करना मुमकिन है :


  • बीती बातों को भूल जाएं :

    happy-stayreading

अक्‍सर हम किसी की कही हुई बातों या किसी भी प्रकार की छोटी-छोटी बातों को दिल से लगा लेते हैं और फिर उन्‍हीं के बारे में घंटों सोचते रहते हैं। लेकिन क्‍या कभी आपने सोचा है कि जिस बात को लेकर आप घंटों उदास बैठ जाते हैं और अपने किसी प्रिय दोस्‍त या रिश्‍ते के प्रति मन में कड़वाहट ले लेते हैं और अंदर ही अंदर आप अकेले घुटते रहते हैं, न किसी से बात करना। जिससे आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर तो काफी असर होता ही है साथ ही आपका किसी काम में मन भी नहीं लगता। इसलिए आपके जीवन में चाहे किस भी प्रकार का घटना क्‍यों न घटी हो, उअ घटना को लेकर जीवन भर दुखी नहीं होना चाहिए उसके बजाए उससे सबक लेकर आगे बढ़ें और उसका शोक मनाना छोड़ कर जीवन की खुशियों का आनंद लेना शुरू करें।

 

  • परिवार के साथ समय व्यतीत करें :

    family-stayreading

माना कि आपके दोस्‍त आपके लिए बहुत Important  हैं, लेकिन उनके साथ time spend करके आप जहां आप अपने दिमाग को शांत करने जाते हैं वह जगह है घर। इसलिए जरूरी है कि आप अपने परिवार को भी पूरा समय दें। आजकल देखा रहा है कि जब लोग बड़े हो जाते हैं, तो वह अपने काम और दोस्‍तों में इतने व्‍यस्‍त हो जाते हैं कि घर पर बस रात का खाना और नींद लेने ही जाते हैं। लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए कुछ करने से पहले या कोई भी घटना आपके साथ हुई हो  वो अपने परिवार से बताना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपका दिमाग बहुत Relax महसूस करता है। ऐसा करने से जब कभी आप परेशानी में होंगे तो परिवार का और विश्‍वसनीय व्यक्ति आपको उस परेशानी से निकाल सकता है। आपको दुनिया में हर कोई छोड़ सकता है लेकिन आपके मम्मी -पापा आपको कभी नहीं छोड़ सकते है।



 

  • Music सुनें :

    music-stayreading

हम यह कह सकते है कि प्यारी संगीत रूह को सुकून देता है। पर क्या आप जानते है इसका ताल्लुक हमारी खुशियों से भी है। बहुत सारे अध्ययनों के मुताबिक यह देखा गया कि Instrumental music सुनने के दौरान व्यक्ति के दिमाग में डोपामाइन अधिक मात्रा में रिलीज़ होती है और ख़ुशी अनुभव कराती है। अध्ययनों के मुताबिक डोपामाइन का सम्बन्ध memory को बेहतर होने से भी है, इसलिए Parkinson’s disease से ग्रसित लोगो को music सुनने के कारण positive result देखा गया है। म्यूजिक सुनने से हम अपने काफी समस्याओं को भूल जाते है कर कुछ देर के लिए रिलैक्स हो जाते है।

 

  • सूर्य की रोशनी लें :

    take sunlight-stayreading

अक्सर हमारे देश के युवा काले होने और स्किन खराब होने के डर से धुप में निकलना पसंद नहीं करते है। और यही से शुरू होती है, मूड से सम्बन्धी परेशानियां। कई देशों में हुए अध्ययनों में इस बात पर जोर दिया गया है कि न सिर्फ हमारे हड्डियों और मांसपेशियों की सेहत, बल्कि खुश रहने के लिए भी सूर्य की रोशनी से मिलने वाली विटामिन-D की बहुत जरुरी होती है। पूरी तरह से सूर्य की रोशनी न मिल पाने के कारण इंसान निराशा महसूस करता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सूर्य की रोशनी के संपर्क में न आने के कारण शरीर में खुशियों का अहसास दिलाने वाला हार्मोन न्यूरोकेमिकल संकुचित मात्रा में उत्पन्न होने लग जाता है। शोधकर्ता के मुताबिक दिमाग में डोपाइन केमिकल पूरी मात्रा में रीलीज़ हो सकें, इसके लिए कुछ समय के लिए सूर्य की रोशनी के संपर्क में आना बहुत जरुरी है। लेकिन ज्यादा देर तक भी नहीं रहना चाहिए क्योंकि यह त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है।


  • भोजन में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा लें :

    protein-stayreading

प्रोटीन के बहुत-से फायदे है। इन फायदों के साथ-साथ ये इंसान को खुशमिजाज रखने में अहम भूमिका निभाता है। प्रोटीन का सेवन करने से डोपामाइन का मात्रा में वृद्धि होती है। अमीनो, एसिड से मिलकर प्रोटीन का निर्माण होता है। अध्ययनों के मुताबिक Brain में डोपामाइन के मात्रा में वृद्धि होती है। बादाम, केला, तरबूज, दही और अवोकाडो में भी टाइरोसीन नामक अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।



 

  • अपने मन की सुनो :

    din start-stayreading

अक्सर देखा जाता है कि लोग अपने मन को संतुष्ट नहीं कर पाते है। जिसकी वजह से वो कितनी भी कोशिश कर लें खुश रहने की, लेकिन खुश नहीं रह सकते।  आपको एक उदाहरण के माध्यम से समझाते है :-  ” चिंटू और मिंटू बहुत अच्छे दोस्त थे। वो एक ही क्लास में पढ़ते थे, दोनों पढ़ने में बहुत अच्छे थे। लेकिन चिंटू, मिंटू से 5 नम्बर ज्यादा ले आया। अब मिंटू यही बात सोच सोच कर दुखी होता रहा कि चिंटू के मेरे से ज्यादा नंबर कैसे आ गए। कोई भी काम करता उसको वही याद आ जा रहा था। जिसकी वजह से उदास हो जाता था “। इसलिए जरुरी है कि पहले आप मन को समझाइए। खुद पर भरोसा रखे और अपने मन में यह भावना रखे कि इस बार चिंटू से ज्यादा नंबर लाऊंगा।

 

  • दुसरो से किसी भी प्रकार की उम्मीद न रखे :

    selfdepend-stayreading

जब आप किसी अपने से किसी चीज की उम्मीद रखतें है और वो इंसान आपकी उम्मीदों पर पानी फेर देता है तब आप दिल से पूरी तरह से टूट जाते है। और खुश रहने की वजह ही बचती है आपको ऐसा लगने लग जाता है कि आपको समझने वाला इस दुनिया में कोई नहीं है। इसलिए किसी से कुछ भी उम्मीद लगा कर मत बैठिये। हमारा सिर्फ खुद पर अधिकार है किसी दूसरे को हम Control नही कर सकते। इसलिए अगर आपको खुश रहना है तो दूसरो की Care करे पर उनसे किसी भी प्रकार की कोई भी उम्मीद न लगाए।

 

  • पूरी नींद लें :

    sleep-stayreading

बहुत सारे शोधकर्ता  इस यह सलाह देते है कि अगर आपको खुश रहना है तो आपको पर्याप्त नींद लेना बहुत जरुरी है। मलतब रात में आपको 6-7 घण्टें सोना जरुरी होता है। अगर आप पर्याप्त नींद लेते है तो आप अपने सारे तनाव और problem  को भूल जाते है। और एक नई सुबह की शुरुआत होती है जो बहुत खुशमिजाज होती है इसलिए कोशिश करे रात को पूरी तरह से नींद लें।

 

  • Future के बारे में ज्यादा न सोचें :

    overthinking-stayreading

Future के बारे में ज्यादा ना सोचें अगर आप खुश रहना चाहते है तो, आप अगर सही सलामत हैं तो सब सही है,आपको हमेशा positive सोचना चाहिए और अगर कोई problem आती भी है तो डट कर सामना करें। हालात चाहे जैसे भी हों उसका आनंद उठाएं और Future के बारे में सोचकर अपना Present  खराब ना करें क्योंकि Future में क्या होनेवाला है, ये किसी को नहीं पता और ना ही किसी ने Future को देखा है। Future अनिश्चित है।




यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी ID है : blog.stayreading@gmail.com ! article पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे और आपको हमारी यह Post कैसी लगी. नीचे दिए गए Comment Box में जरूर लिखें. यदि आपको हमारी ये Post पसंद आए तो Please अपने Friends के साथ Share जरूर करें. और हाँ अगर आपने अब तक Free e -Mail Subscription activate नहीं किया है तो नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up जरूर करें.

Happy Reading !

Tags

About the author

StayReading.com

StayReading.com का Main Motive ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रेरित करना और आगे बढ़ने में Help करना है। Inspirational और Motivational Quotes का अनमोल संग्रह है, जो आपको प्रेरित करेगा की आप अपने जीवन को नये अंदाज में देखें। हर Quotesऔर Stories का संग्रह आपके नज़रिए को व्यापक करती है और बताती है की पूर्ण इंसान बनने का मतलब क्या होता है। यह हमे सिखाती है की हम भी अपने जीवन में ज़्यदा प्रेम, साहस और करुणा कैसे हासिल कर सकते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Sponsors links

Related Posts

Popular Posts

FREE Email Subscription