Thoughts in Hindi

Life Changing Quotes in Hindi (PART-1)

यह Life Changing Quotes हमने अपने अनुभव के आधार पर तैयार किये हैं| इसमें से कुछ Life Changing Quotes विचार हमने अपने तरफ से जोड़े हैं जो कि आपको यहाँ पढ़ने को मिलेंगे | आप इन Life Changing Quotes को पढ़ने के बाद Motivated तो होंगे ही साथ ही आपको अपनी ज़िन्दगी में आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी |


नीचे गिरे सूखे पत्तों पर अदब से चलना ज़रा,
कभी कड़ी धूप में तुमने इनसे ही पनाह माँगी थी।


इंसान के दिमाग का सही काम करना कोई बड़ी बात नहीं है, बल्कि दिमाग का सही वक़्त पर सही काम करना बहुत बड़ी बात है।


भूल होना ‘प्रकृति’ है,
मान लेना ‘संस्कृति’ है,
सुधार लेना ‘प्रगति’ है।





कहते हैं कि पहला प्यार कभी भुलाया नहीं जाता, फिर पता नहीं क्यों लोग अपने माँ-बाप का प्यार भूल जाते हैं।


किसी के गुणों की प्रशंसा करके अपना समय नष्ट मत करो, बल्कि उसके गुणों को अपनाने का प्रयास करो।


अगर आप अपनी जिम्मेदारी खुद ले लेते हैं तो आप में अपने सपने सच करने की चाहत अपने आप विकसित हो जाएगी।


अगर कोई आपको नजरअंदाज करता है तो बुरा महसूस मत करो।
लोग अक्सर मूल्यवान चीज़ों को ही नजरअंदाज करते हैं, क्योंकि उनका मूल्य उनके पास नहीं होता।


जीभ जन्म से होती है और मृत्यु तक रहती है क्योकि वो कोमल होती है,
दाँत जन्म के बाद में आते है और मृत्यु से पहले चले जाते हैं… क्योकि वो कठोर होते है।


विज्ञान कहता है कि जीभ पर लगी चोट सबसे जल्दी ठीक होती है और ज्ञान कहता है कि जीभ से लगी चोट कभी ठीक नहीं होती।


इंसान तब समझदार नहीं होता जब वो बड़ी-बड़ी बातें करने लगे;
वो असल में समझदार तब होता है जब वो छोटी-छोटी बातें समझने लगे।


जो सपने देखते हैं और उन्हें पूरा करने की कीमत चुकाने को तैयार रहते हैं।
वे ही वो लोग हैं जो सफल होते है।


पहाड़ से गिरा हुआ आदमी फिर से उठ सकता है लेकिन नज़र से गिरा आदमी कभी नहीं उठ सकता।


यादें और वादे में सिर्फ इतना अंतर है कि:
यादें हमें तोड़ देती हैं;
और वादे हमें तोड़ देते हैं।


घड़ी-घड़ी, घड़ी मत देखो,
एक घड़ी अपने को देखो;
हर घड़ी सुधर जाएगी।


कर्मों से ही पहचान होती है इंसानों की क्योंकि महेंगे कपडे तो ‘पुतले’ भी पहनते है दुकानों में।


अगर कोई आपको नीचे दिखाना चाहता है तो इसका मतलब है कि आप उससे ऊपर हैं।


यदि आप गुस्से के एक क्षण में धैर्य रखते हैं तो आप दुःख के सौ दिन से बच सकते हैं।


तुम जो चाहते हो अगर वह हो जाए, तो तुम्हें ख़ुशी मिलेगी;
वैसे ही अगर तुम खुश रहने लगो तो वह होने लगेगा जो तुम चाहते हो।


ज़रूरी नहीं कि हर समय लबों पर भगवान का नाम आये,
वो लम्हा भी भक्ति से कम नहीं जब इंसान इंसान के काम आये।


जो लोग आपसे ईर्ष्या करते हैं उनसे कभी घृणा मत करें,
क्योंकि यही तो वो लोग हैं जो आपको एहसास दिलाते हैं कि आप उनसे बेहतर हैं।


सांप घर पर दिखाई दे तो लोग डंडों से मारते हैं और जब शिव लिंग पर दिखाई दे तो दूध पिलाते हैं।
लोग सम्मान आप का नहीं, आप के स्थान और स्थिति का करते हैं।





भगवान से कुछ मांगना ही है तो हमेशा अपनी माँ के सपने पूरे होने की दुआ माँगना;
तुम खुद ब खुद आसमान की ऊंचाइया छू लोगे।


जब लगे पैसा कमाने, तो समझ आया कि शौक तो मां-बाप के पैसों से पूरे होते थे,
अपने पैसों से तो सिर्फ जरूरतें पूरी होती है।


इंसान मुसीबतों से नहीं हारता… वो उस समय हार जाता है जब मुसीबतों में अपने साथ छोड़ देते हैं।


जिंदगी मे चुनौतियाँ हर किसी के हिस्से नहीं आती,
क्योंकि किस्मत भी किस्मत वालों को ही आज़माती है।


जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी शानदार होगी।


जीवन में सबसे बड़ी ख़ुशी उस काम को करने में है जिसे लोग कहते हैं कि तुम नहीं कर सकते।


कभी संघर्ष को ऐसे पढ़ कर देखिये
‘संग’ + ‘हर्ष’
बस फिर दुनिया बदल जाएगी।


मतलब की बात सब समझते हैं, बात का मतलब कोई नहीं।


समय दिखाई नहीं देता पर बहुत कुछ दिखा जाता है।


मन में जो है साफ़ साफ़ कह दो, क्योंकि फैंसला फांसले से बेहतर होता है।


सुख और दुःख हमारे पारिवारिक सदस्य नहीं, मेहमान हैं।
जो बारी – बारी से आयेंगे, कुछ दिन ठहर कर चले जायेंगे। अगर वो नहीं आयेंगे तो हम अनुभव कहाँ से लायेंगे।


दूसरों को देखकर तुम्हें भी दुःख होता है तो समझ लो;
भगवान ने तुम्हें इंसान बनाकर कोई गलती नहीं की।


मंज़िलें चाहे कितनी भी ऊँची या कठिन हो, रास्ते हमेशा पैरों के नीचे ही होते हैं।


सुख और दुःख हमारे पारिवारिक सदस्य नहीं, मेहमान हैं।
जो बारी – बारी से आयेंगे, कुछ दिन ठहर कर चले जायेंगे। अगर वो नहीं आयेंगे तो हम अनुभव कहाँ से लायेंगे।


वक़्त के साथ हर कोई बदल जाता है गलती उसकी नहीं जो बदल जाता है बल्कि गलती उसकी है जो पहले जैसा रह जाता है।


इंसान के अंदर जो समा कर रहे वह स्वाभिमान है और जो बाहर छलके वो अभिमान है।


दुनिया का सबसे कठिन शब्द है, ‘वाह’;
जब आप किसी के लिए ऐसा बोलते हैं, तब ना सिर्फ आप अपने अहंकार को तोड़ते हैं बल्कि एक दिल भी जीत लेते हैं।


जीभ सुधर जाये तो जीवन सुधरने में वक़्त नहीं लगता।


आत्मविश्वास में पैदल चलना संदेह में दौड़ने से कहीं बेहतर है।


जीवन में एक दोस्त कर्ण जैसा भी ज़रूर होना चाहिए,
जो तुम्हारे गलत होते हुए भी तुम्हारे लिए युद्ध करे।


कमाई छोटी या बड़ी हो सकती है पर रोटी की साईज़ लगभग सब घर में एक जैसी ही होती है।


बुद्धिमान राजाओं के पास बुद्धिमान सलाहकार होते हैं, और जो ज्ञानी अज्ञानी में अंतर कर सके उसका खुद बुद्धिमान होना ज़रूरी है।





जीत और हार आपकी सोच पर निर्भर करती है।
मान लो तो ‘हार’ होगी और ठान लो तो ‘जीत’ होगी।


पैसा हमारी औकात नहीं बल्कि हमारो की नियत बता देता है।


किसी की बुराई तलाश करने वाले इंसान की मिसाल उस ‘मक्खी’ जैसी है जो सारी खूबसूरत जगह को छोड़कर, केवल गंदगी पर ही बैठती है।


ज़िंदगी में हर मौक़े का फ़ायदा उठाओ, मगर किसी की मज़बूरी और भरोसे का नहीं।


कौन कहता है कि ‘पैसा’ सब कुछ खरीद सकता है, दम है तो टूटे हुए ‘विश्वास’ को खरीद कर दिखाओ।


अपनी बात कहने का अंदाज़ खूबसूरत रखो ताकि जवाब भी खूबसूरत सुन सको।


पैसा इंसान को ऊपर ले जा सकता है;
लेकिन इंसान पैसा ऊपर नही ले जा सकता।


यह ज़रूरी नहीं कि इंसान हर रोज़ मंदिर जाये बल्कि…
कर्म ऐसे होने चाहिए कि इंसान जहाँ भी जाये मंदिर वहीं बन जाये।


दुनिया में सबसे ताकतवर इंसान वो होता है जो धोखा खा कर भी लोगों की मदद करना नही छोड़ता।


कुछ पल बैठा करो बुजुर्गों के साथ क्योंकि हर चीज “गूगल” पर नहीं मिला करती।


कभी सोचिये स्वयं को बदलना कितना कठिन है, फिर दूसरों को बदलना कैसे सरल हो सकता है।


कामयाबी तक जाने वाले रास्ते सीधे नहीं होते लेकिन कामयाबी मिलने पर सभी रास्ते सीधे हो जाते हैं।


जीवन की लंबाई नहीं गहराई मायने रखती है।


काम का आलस और पैसों का लालच,
हमें महान बनने नहीं देता।


सफलता हमारा परिचय दुनिया को करवाती है और असफलता हमें दुनिया का परिचय करवाती है।


हर ‘बादशाह’ का भी एक ‘वक्त’ होता है, और हर ‘वक्त’ का एक ‘बादशाह’ होता है।


टूटी कलम और औरो से जलन, खुद का भाग्य लिखने नहीं देती ।


कभी किसी की भावनाओं के साथ मत खेलो,
हो सकता है आप ये खेल जीत जायें;
पर यह पक्का है कि उस इंसान से आप हमेशा के लिए हार जाओगे।


मंज़िल पाना तो बहुत दूर की बात है अगर गुरूर में रहोगे तो रास्ते भी नहीं देख पाओगे।


स्वभाव रखना है तो उस दीपक की तरह रखो जो बादशाह के महल में भी उतनी रौशनी देता है जितनी किसी गरीब की झोंपड़ी में।


यह ज़रूरी नहीं कि हर शख्स हम से मिलकर खुश ही हो बस यह कोशिश रहनी चाहिए कि कोई हमसे मिलकर बस दुखी ना हो।


स्वभाव रखना है तो उस दीपक की तरह रखो जो बादशाह के महल में भी उतनी रौशनी देता है जितनी किसी गरीब की झोंपड़ी में।


जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी शानदार होगी।


मुस्कुराते रहो तो दुनिया आपके क़दमों में होगी क्योंकि आँसुओं को तो आँखें भी जगह नहीं देती।


ज़िन्दगी में अपनापन तो हर कोई दिखाता है लेकिन अपना कौन है ये तो वक़्त ही बताता है।





बड़े बुजुर्गों की उँगलियों में कोई ताक़त ना थी;
मगर जब मेरा सिर झुका, तो सिर पर रखे काँपते हाथों ने ज़माने भर की दौलत दे दी।


बदला लेने में क्या मजा है?
मजा तो तब है जब तुम सामने वाले को बदल डालो।


जब गलती करना जरुरी हो जाये तो माफी पहले से ही माँग लेनी चाहिए।


मुस्कुराओ क्योंकि मुस्कान ही आपके चेहरे का वास्तविक श्रृंगार है। मुस्कान आपको किसी बहुमूल्य आभूषण के अभाव में भी सुन्दर दिखाएगी।


समय बहाकर ले जाता है, नाम और निशान;
कोई ‘हम’ में रह जाता है, और कोई ‘अहम’ में।


संसार में बड़ा आदमी वही कहलाता है जिससे मिलने के बाद कोई इंसान ख़ुद को छोटा महसूस न करे।


दुनिया में कोई भी चीज़ अपने आपके लिए नहीं बनी है। जैसे:
दरिया – खुद अपना पानी नहीं पीता।
पेड़ – खुद अपना फल नहीं खाते।
सूरज – अपने लिए उजाला नहीं करता।
फूल – अपनी खुशबु अपने लिए नहीं बिखेरते।
मालूम है क्यों?
क्योंकि दूसरों के लिए ही जीना ही असली जिंदगी है।


अपने रिश्तों और पैसों की कदर एक सामान करें क्योंकि दोनों कमाने मुश्किल हैं लेकिन गंवाने आसान।


ज़िन्दगी तब बेहतर होती है जब हम खुश होते हैं,
लेकिन यकीन करो ज़िन्दगी तब और बेहतरीन हो जाती है जब हमारी वजह से सब खुश होते हैं।


आदमी साधनों से नहीं साधना से महान बनता है,
आदमी भवनों से नहीं भावना से महान बनता है,
आदमी उच्चारण से नहीं उच्च आचरण से महान बनता है।


ज़िन्दगी में जो भी हासिल करना हो उसे वक़्त पर हासिल करो,
क्योंकि ज़िन्दगी मौके कम और धोखे ज्यादा देती है।


मनुष्य सुबह से शाम तक काम करके इतना नहीं थकता जितना क्रोध और चिंता से एक क्षण में थक जाता है।


सफलता का आधार है, सकारात्मक सोच और निरंतर प्रयास।


नल बंद करने से नल बंद होता है, पानी नहीं।
घड़ी बंद करने से घड़ी बंद होती है, समय नहीं।
दीपक बुझाने से दीपक बुझाता है, रौशनी नहीं।
झूठ छुपाने से झूठ छुपता है, सच नहीं।


प्रेम करने से प्रेम मिलता है, नफरत नहीं।
दान करने से रुपया जाता है, लक्ष्मी नहीं।


अगर किस्मत आज़माते आज़माते थक गए हो तो कभी खुद को आज़माइये, नतीजे बेहतर होंगे।


संसार में केवल मनुष्य ही ऐसा एक मात्र प्राणी है जिसे ईश्वर ने हंसने का गुण दिया है, इसे खोईए मत।


आप जितना ही कम बोलेंगे उतना ही आपको लोग ध्यान से सुनेंगे।


स्नान तन को,
ध्यान मन को,
दान धन को,
योग जीवन को,
प्रार्थना आत्मा को,
व्रत स्वास्थ को,
क्षमा रिश्तो को,
और परोपकार किस्मत को शुद्ध कर देता है।


गलती कबूल करने और गुनाह छोड़ने में कभी देर ना करें;
क्योकिं सफर जितना लम्बा होगा, वापसी उतनी मुश्किल हो जायेगी।


हमेशा उन्हीं के करीब मत रहिये जो आपको खुश रखते हैं,
बल्कि कभी उनके भी करीब जाईये जो आपके बिना खुश नहीं रहते हैं।


सुंदरता की तलाश में चाहे हम सारी दुनिया का चक्कर लगा आयें लेकिन अगर वो हमारे अंदर नहीं है तो कहीं नहीं मिलेगी।


सोने से पहले उन्हें भी माफ़ कर दो जिन्होंने आपका दिल दुखाया हो,
हो सकता है अगली सुबह उसे इसका एहसास हो।


सफर का मजा लेना हो तो साथ में सामान कम रखिए;
और ज़िन्दगी का मजा लेना हैं तो दिल में अरमान कम रखिए।


यह सच बात है कि भूल करके इंसान सीखता है,
पर इसका ये मतलब नहीं कि वह जीवन भर भूल करता ही जाए और कहे कि हम सीख रहे हैं।


सड़क कितनी भी साफ़ हो धूल तो हो ही जाती है,
इंसान कितना भी अच्छा हो भूल तो हो ही जाती है।


मौत सब को आती है बस जीना सब को नहीं आता।


क्रोध करने का मतलब है, दूसरों की गलतियों की सज़ा स्वयं को देना।


ये जरुरी नहीं है कि हर रोज मंदिर जाने से इंसान धार्मिक बन जाए;
लेकिन कर्म ऐसे होने चाहिए कि इंसान जहाँ भी जाए मंदिर वहाँ बन जाए।


दुनिया आपके “उदाहरण” से बदलेगी आपकी “राय” से नही।


जीवन में तीन लोगों को कभी नहीं भूलना चाहिए


1. मुसीबत में मदद करने वाले को
2. मुसीबत में साथ छोड़ने वाले को
3. मुसीबत में डालने वाले को





समय और समझ दोनों एक साथ खुश किस्मत लोगों को ही मिलते हैं, क्योंकि
अक्सर समय पर समझ नहीं आती और समझ आने पर समय निकल जाता है।


वक़्त की एक आदत बहुत अच्छी है, जैसा भी हो गुज़र जाता है।


इंसान को इंसान धोखा नहीं देता बल्कि वो उम्मीदें धोखा दे जाती हैं जो वो दूसरों से रखता है।


मंदिर में वो भगवान है, जिसे हमने बनाया है,
घर में माँ बाप वो भगवान है जिन्होंने हमें बनाया है।


पत्थर तब तक सलामत है जब तक वो पर्वत से जुड़ा है,
पत्ता तब तक सलामत है जब तक वो पेड़ से जुड़ा है,
इंसान तब तक सलामत है जब तक वो परिवार से जुड़ा है,
क्योंकि, परिवार से अलग होकर आज़ादी तो मिल जाती है लेकिन संस्कार चले जाते हैं।


दो तरह से देखने में चीज़ें छोटी नज़र आती हैं;
दूर से और गुरूर से।


स्वार्थ में अच्छाईयाँ ऐसे खो जाती हैं जैसे समंदर में नदियां।


बुलंदियों पर पहुँच कर गुरुर ना करना;
ज़िंदगी के सफ़र की ढलान अभी बाकी है।


किसी के गुणों की प्रशंसा करके अपना समय नष्ट मत करो;
बल्कि उसके गुणों को खुद अपनाने की कोशिश करो।


इंसान को बोलना सीखने में दो साल लग जाते हैं लेकिन “क्या बोलना है?”, यह सीखने में पूरी ज़िन्दगी निकल जाती है।


ज़िंदगी में आप कितने खुश हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है;
बल्कि महत्वपूर्ण यह है कि आपके कारण कितने लोग खुश हैं।


इंतज़ार करने वालों को उतना ही मिलता है, जितना कोशिश करने वाले छोड़ देते हैं।


वाणी में भी अजीब शक्ति होती है, कड़वा बोलने वाले का शहद भी नहीं बिकता और मीठा बोलने वाली की मिर्ची भी बिक जाती है।


यदि आप सही हैं तो आपको गुस्सा होने की जरूरत नहीं है;
और यदि आप गलत हैं तो आप को गुस्सा होने का कोई हक़ नहीं है।


कुंए में उतरने वाली बाल्टी यदि झुकती है, तो भरकर बाहर आती है;
जीवन का भी यही गणित है, जो झुकता है वह प्राप्त करता है।


बड़ा आदमी बनना अच्छी बात है लेकिन अच्छा आदमी बनना बहुत बड़ी बात है।


आत्मविश्वास के बिना किसी काम में सफल होने की कल्पना करना अपने आप को धोखा देने के समान है।


कागज अपनी क़िस्मत से उड़ता है और पतंग अपनी काबिलियत से;
क़िस्मत साथ दे या न दे पर काबिलियत जरुर साथ देगी।


जब नाख़ून बढ़ जाते हैं तो नाख़ून ही काटे जाते हैं उँगलियाँ नहीं।
इसलिए अगर रिश्तों में दरार आ जाये तो दरार को मिटाइये, रिश्तों को नहीं।


कर्म करने से हार या जीत कुछ भी मिल सकता है लेकिन कर्म न करने से केवल हार ही मिलती है।


तजुर्बे ने एक बात सिखाई है;
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवाई है!


इंसान को इंसान धोखा नहीं देता है;
बल्कि वो उम्मीदें धोखा दे जाती हैं जो वो दूसरों से रखता है।


यदि किसी के मन में सीखने की लगन ना हो तो कोई भी उसे नहीं सिखा सकता क्योंकि फूंक मारकर आप उस ढेर को तो जला सकते है जिसमें चिंगारी हो पर राख के ढेर मे फूंक मारकर आप रोशनी की आशा नहीं कर सकते।


चीज़ों की कीमत मिलने से पहले होती है और इंसानों की कीमत खोने के बाद।


दो बातें इंसान को अपनों से दूर कर देती हैं;
एक तो उसका अहम और दूसरा उसका वहम।


फूलों की खुशबु सिर्फ हवा की दिशा मे फैलती है लेकिन अच्छे व्यक्ति की अच्छाई, हर दिशा मे फैलती है।


किसी ने क्या खूब कहा है कि गरीब आदमी मंदिर के बाहर भीख मांगता है और अमीर आदमी मंदिर के अंदर।


जब लगने लगे कि लक्ष्य हासिल नहीं हो पायेगा तो अपने लक्ष्य को नहीं प्रयासों को बदलो।


हुनर तो सब में होता है, किसी का छिप जाता है और किसी का छप जाता है।


जीवन में कभी भी मुसीबत आए तो किसी से मदद मत मांगना क्योंकि मुसीबत थोड़ी देर की होती है और एहसान जिंदगी भर का होता है।


जीवन में जब कुछ बड़ा मिल जाये तो छोटे को कभी मत भूलना;
क्योंकि जहाँ सुई का काम है वहाँ तलवार काम नहीं करती।


दिन की शुरआत में हमें लगता है कि ज़िन्दगी में पैसा बहुत ज़रूरी है पर दिन ढलने पर हमें पता चलता है कि ज़िन्दगी में शांति और सुकून अधिक ज़रूरी है।


ज़िंदगी कांटों का सफर है, हौंसला इसकी पहचान है;
रास्ते पर तो सभी चलते हैं, जो रास्ते बनाये वही तो इंसान है।


जिंदगी में दो लोगों का ख्याल रखना बहुत जरुरी है;
पिता: जिसने तुम्हारी जीत के लिए सब कुछ हारा हो।
माँ: जिसको तुमने हर दुःख में पुकारा हो।


बीते कल का अफ़सोस और आने वाले कल की चिंता दो ऐसे चोर हैं, जो हमारे आज की ख़ूबसूरती को चुरा लेते हैं।


‘इंसान’ एक दुकान है और ‘जुबान’ उसका ताला;
जब ताला खुलता है, तभी मालूम पड़ता है;
कि दुकान ‘सोने’ की है या ‘कोयले’ की।


मुसीबत सब पर आती है, कोई बिखर जाता है और कोई निखर जाता है।


जीते जी के झगडे हैं ये तेरा है ये मेरा है;
जब चले गए दुनिया से तब न कुछ तेरा है न मेरा है।


दुश्मनों के बीच ऐसे रहिये जैसे एक जीभ 32 दाँतों के बीच रहती है,
मिलती सब से है पर दबती किसी से नहीं।





जीवन के लिए शानदार नज़रिया:
लोग हमारे बारे में क्या सोचते हैं – अगर यह भी हम सोचेंगे तो लोग क्या सोचेंगे।


मनुष्य सुख की खोज में अपने जीवन को असंतुलित कर लेता है परन्तु वो ये नहीं जानता कि सुख का असली आधार तो संतुलित जीवन ही होता है।


रिश्ते खराब होने की वजह एक ही है,
लोग टूटना पसंद करते हैं मगर झुकना नहीं।


“धर्म” से “कर्म” इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि “धर्म” करके भगवान से मांगना पडता है,
जबकि “कर्म” करने से भगवान को खुद ही देना पडता है।


अपनी जुबान की ताक़त उन माँ-बाप पर कभी मत आज़माओ जिन्होंने तुम्हें बोलना सिखाया है।


सदा खुश रहा करो, क्योंकि परेशान होने से कल की मुश्किल दूर नहीं होती,
बल्कि आज का सुकून भी चला जाता है।


कुछ अलग करना है, तो जरा भीड़ से हटकर चलो,
भीड़ साहस तो देती है, लेकिन पहचान छीन लेती है।


छोटा बन कर रहोगे तो, मिलेगी हर बड़ी रहमत दोस्तों;
बड़ा होने पर तो माँ भी गोद से उतार देती है।
वक़्त जैसा भी हो बदलता जरूर है;
इसलिए अच्छे वक़्त में कोई ऐसी गलती न करें जिससे बुरे वक़्त में अच्छे लोग आपका साथ छोड़ दें।


जो अपने लिए नियम नहीं बनाता उसे दूसरों के नियम पर चलना पड़ता है।


हारना तब आवश्यक हो जाता है जब लङाई “अपनों से हो”
और जीतना तब आवश्यक हो जाता है जब लङाई “अपने आप से हो”।


रात को नींद आना आसान बात नहीं,
उसके लिए पूरा दिन ईमानदार रहना पड़ता है।


किसी का सरल स्वभाव उसकी कमज़ोरी नहीं होता है। संसार में पानी से सरल कुछ भी नहीं है, किन्तु उसका बहाव बड़ी से बड़ी चट्टान के भी टुकड़े कर देता है।


पीपल के पत्तों जैसे ना बनो, जो वक़्त आने पर सूख कर गिर जाते हैं,
बनना है तो मेहँदी के पत्तों जैसा बनो जो खुद पिस कर भी दूसरों की ज़िन्दगी में रंग भर जाते हैं।


ज़िन्दगी बदलने के लिए लड़ना पड़ता है और आसान करने के लिए समझना पड़ता है।
दौलत भी क्या चीज़ है, जब आती है तो इंसान खुद को भूल जाता है और जब जाती है तो ज़माना उसको भूल जाता है


अपनी कीमत उतनी रखिये जितनी अदा हो सके,
अगर अनमोल हो गए तो तनहा हो जाओगे।


बहुत दूर तक जाना पड़ता है सिर्फ यह जानने के लिए कि नज़दीक कौन है।


कभी भी किसी की भी बुराई मत करें, क्योंकि बुराई नाव में छेद समान है,
छेद छोटा हो या बड़ा नाव को डुबा ही देता है।


यदि आपको अपना दर्द महसूस होता है, तो आप जीवित हैं और यदि आपको दूसरों का दर्द महसूस होता है तो आप एक इंसान हैं।


हमारा सलाहकार कौन है, यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि,
दुर्योधन शकुनि से सलाह लेता था और अर्जुन श्री कृष्ण से।


जीवन के प्रति जिस व्यक्ति की कम से कम शिकायतें हैं;
वही इस दुनिया में अबसे अधिक सुखी है।


किसी के दिल को चोट पहुँचा कर माफ़ी माँगना बहुत आसान है लेकिन खुद चोट खा कर किसी को माफ़ करना बहुत मुश्किल है।


भरी जेब ने ‘दुनिया’ की पहचान करवाई और खाली जेब ने ‘इंसानो’ की।


बेहतरीन इंसान अपनी मीठी जुबान से ही जाना जाता है वरना अच्छी बातें तो दीवारों पर भी लिखी होती हैं।


एक सवेरा था जब हँस कर उठते थे हम;
और आज कई बार बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है।


इंसान तो हर घर मे जन्म लेता है,बस इंसानियत कही-कही ही जन्म लेती है।


इस कलयुग में रूपया चाहे कितना भी गिर जाए;
इतना कभी नहीं गिर पायेगा, जितना रूपये के लिए इंसान गिर चुका है।


अगर परछाई कद से और बातें औकात से बड़ी होने लगें तो समझ लो सूरज डूबने ही वाला है।


कामयाब लोग “अपने फैंसले” से दुनिया बदल देते हैं और नाकामयाब लोग दुनिया के डर से “अपने फैंसले” बदल लेते हैं।


किसी भी मनुष्य की वर्तमान स्थिति को देख कर उसके भविष्य का मज़ाक मत उड़ाओ;
क्योंकि काल में इतनी शक्ति है कि वो असाधारण से दिखने वाले कोयले को भी धीरे-धीरे हीरे में बदल देता है।


एक बात हमेशा याद रखना:
ढूंढने पर वही मिलेंगे जो खो गए थे, वो कभी नहीं मिलेंगे जो बदल गए हैं।


जब से पैसों का निर्माण हुआ है, तब से विश्वास और रिश्तों की कीमत घट गयी है।


ये जरुरी नही कि हर जंग जीती जाए;
जरुरी तो यह हैं कि हर हार से कुछ सीखा जाए।


सफल व्यक्ति वही है जो सुबह उठकर पहले यह तय करता है कि आज उसे क्या-क्या काम करने है और रात तक वह उन सारे कामों को कई परेशानियों के बाद भी पूरा कर लेता है |


कोई इतना अमीर नहीं होता कि वो अपना गुजरा हुआ कल खरीद सके ..और .. कोई इतना गरीब नहीं होता कि वो अपना आने वाला कल ना बदल सके l





ज़िन्दगी दो दिन की हैं ! एक दिन आपके हक़ मैं, और एक दिन आपके खिलाफ मैं , इसलिए जिस दिन हक़ मैं हो उस दिन गरूर मत करना और जिस दिन खिलाफ हो उस दिन थोडा सा सब्र रखना l


लोग कहते हैं कि दुःख बुरा होता हैं जब भी आता हैं सिर्फ रुलाता हैं ..मगर हम कहते हैं कि दुःख अच्छा होता हैं जब भी आता हैं कुछ न कुछ सिखा कर जाता हैं


दूसरा व्यक्ति क्या करता हैं उस पर आपका नियंत्रण नहीं हो सकता हैं ……… आपके पास केवल इतना नियंत्रण हैं कि आप क्या करते हैं …


हंसते चेहरे को देख कर ये मत सोचना कि उनको कोई गम नहीं बल्कि ये सोचना कि उस मैं सहन करने कि ताक़त ज्यादा हैं …..


यदि आप सही हैं तो गुस्सा होने कि कोई ज़रूरत नहीं हैं………… और अगर आप गलत हैं तो आपको गुस्सा होने कोई हक़ नहीं …………..


जब आप गुस्से मैं हो तो कोई फैसला न लें और जब आप खुश हो तो किसी से कोई वादा न करें


शेर, छलांग मरने के लिए एक कदम पीछे लेता हैं , इस ही तरह जब ज़िन्दगी आपको पीछे धकेलती हैं तो कमर कस लें कि ज़िन्दगी आपको एक ऊँची छलांग देने को तैयार हैं …


किसी को अपना बनाने के लिए सारी खूबियां कम पड़ जाती हैं जबकि किसी को खोने के लिए एक कमी ही काफी हैं


एक सच्चा दोस्त अगर सौ बार रूठ जाये तो उससे सौ बार मना लो …क्यूंकि …. कीमती मोतियों कि माला जितनी बार भी टूटे हर बार पिरोना ही पड़ता हैं …


बीच रास्ते से लौटने का कोई फायदा नहीं क्योंकि लौटने पर आपको उतनी ही दूरी तय करनी पड़ेगी, जितनी दूरी तय करने पर आप लक्ष्य तक पहुँच सकते है। इसलिए लक्ष्य की ओर बढ़ें।


अगर आप समय पर अपनी गलतियों को स्वीकार नहीं करते है तो आप एक और गलती कर बैठते है। आप अपनी गलतियों से तभी सीख सकते है जब आप अपनी गलतियों को स्वीकार करते है।


आपको हमारी यह Post कैसी लगी. नीचे दिए गए Comment Box में जरूर लिखें. यदि आपको हमारी ये Post पसंद आए तो Please अपने Friends के साथ Share जरूर करें. और हाँ अगर आपने अब तक Free e -Mail Subscription activate नहीं किया है तो नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up जरूर करें.

Happy Reading !

About the author

StayReading.com

StayReading.com का Main Motive ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रेरित करना और आगे बढ़ने में Help करना है। Inspirational और Motivational Quotes का अनमोल संग्रह है, जो आपको प्रेरित करेगा की आप अपने जीवन को नये अंदाज में देखें। हर Quotesऔर Stories का संग्रह आपके नज़रिए को व्यापक करती है और बताती है की पूर्ण इंसान बनने का मतलब क्या होता है। यह हमे सिखाती है की हम भी अपने जीवन में ज़्यदा प्रेम, साहस और करुणा कैसे हासिल कर सकते हैं।

4 Comments

Click here to post a comment