All Posts - सभी पोस्ट्स Inspiring Stories - प्रेरक कहानियाँ Success Stories

Karoly (केरोली) Takacs Real Life Inspirational Hindi Story

दोस्तों कहते हैं मन के हारे हार और मन के जीते जीत! जिंदगी में बहुत कुछ आपके साथ और आपके आसपास घटित होता है. लेकिन असल में महत्वपूर्ण यह है कि आपके मन में क्या घट रहा है. आज मैं आपको एक कहानी सुनाने जा रहा हूँ. यह कहानी है हंगरी सेना (Hungarian Army) के एक जवान केरोली (Karoly Takacs – Olympic Dream) की. माफ कीजिए यह कहानी नहीं हकीकत है. 28 वर्षीय केरोली हंगेरियन आर्मी (Hungarian Army) में सबसे उम्दा पिस्टल शूटर थे.

बात है सन् (year) 1938 की उन्होंने बहुत सी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय शूटिंग प्रतिस्पर्धा जीती. सन् (year) 1940 में टोक्यो में होने वाले ओलंपिक गोल्ड में गोल्ड मेडल के लिए वह सबसे प्रबल दावेदारों में से एक थे. पर एक दिन उनके साथ एक बहुत ही बड़ी घटना घटी. उनके सभी ख्वाब मिट्टी में मिल गए. आर्मी की एक ट्रेनिंग के दौरान उनके हाथ में ग्रेनेड फट गया. और उनका बेस्ट Right हैंड अब नहीं रहा. इस धमाके ने उनका पिस्टल शूटिंग और ओलंपिक में जीतने का हसीन सपना चकनाचूर कर दिया.

“हे भगवान ऐसा मेरे साथ ही होना था” ऐसा question आना केरोली के दिमाग में लाजमी था. पर उन्होंने अपने दिमाग में ऐसा कोई सवाल आने नहीं दिया. करोली अस्पताल में घायल पड़े थे. उनसे मिलने आए हुए लोग उन्हें ढांढस बढ़ा रहे थे कि “जो हुआ उसे भूल जाओ” “शायद भगवान को यही मंजूर था” “अपने परिवार के बारे में सोचो” परंतु यहां केरोली के मन में कुछ और ही चल रहा था. शायद उनका सपना.




अस्पताल से छुट्टी होने के बाद घर पर आए. उनके दिमाग में रह रह के एक ही बात चल रही थी कि ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता. मैं ऐसे हार नहीं मानूंगा, एक महीने गुजरने के बाद उन्होंने फैसला लिया कि वह जिंदगी से हार नहीं मानेंगे. और ना ही अपने ऊपर रहम दिखाएंगे. उन्होंने अपने अंदर ओलंपिक जीतने का ख्वाब जिंदा रखा. अपने अंदर ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता बनने का इरादा हमेशा जिंदा रखा. उन्होंने फैसला किया कि अब वह अपने बाएं (Left) हाथ शूटिंग के प्रैक्टिस शुरू करेंगे. अपने शरीर और मन के दर्द को अनदेखा कर यह बात भुला कर की अब उनका राइट हैंड (Right Hand) नहीं रहा उन्होंने अपना सारा ध्यान अपनी लेफ्ट हैंड (Left Hand) पर टिकाया और प्रैक्टिस करते रहे. कहते हैं कि जिंदगी में बड़ा पाने के लिए हौसला और चाहत की बहुत जरूरत होती है.

अब उनके लिए उनका लेफ्ट हैंड (Left Hand) ही था जिसे उन्हें तैयार करना था ओलंपिक में बेस्ट शूटिंग हैंड बनने के लिए. केरोली (Karoly Takacs) एक साल बाद वह हंगरी में आयोजित नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के दौरान दिखाई दिए. उनके साथी बहुत खुश हुए क्योंकि सबको पता था कि केरोली (Karoly Takacs) इस ओलंपिक में हिस्सा नहीं लिया है. पर अगले ही पल उनके साथी हैरान हो गए जब उन्हें यह अंदाजा हुआ कि केरोली (Karoly Takacs) यहाँ कोई दर्शक बनकर ताली बजाने नहीं आए हैं. वह उनसे मुकाबला करने आए हैं. इतिहास इस बात की गवाह है कि उन्होंने वह ओलंपिक जीता. उन्होंने अपने सपने को हकीकत में बदल दिया.

लोग शायद इसको चमत्कार समझे लेकिन यह बात केरोली (Karoly Takacs) ही जानते थे कि उन्होंने अपने इस लेफ्ट हैंड (Left Hand) को बेस्ट शूटिंग हैंड बनाने के लिए कितनी मेहनत की है. वर्ल्ड वार (World War) के दौरान दो बार ओलंपिक गेम्स (Games) रद्द कर दिए गए. फिर सन् (year) 1948 में लंदन शहर में ओलंपिक गेम्स का आयोजन किया गया. केरोली (Karoly Takacs) ने पिस्टल शूटिंग (Pistol Shooting) इवेंट में हंगरी की तरफ से नुमाइंदगी की.उन्होंने यह कभी महसूस नहीं होने दिया कि उनका राइट हैंड (Right Hand) अब नहीं रहा.

उन्होंने अपना पूरा फोकस अपने बेस्ट पिस्टल शूटिंग हैंड लेफ्ट हैंड पर रखा. उनकी कमजोरी क्या है इस पर ध्यान देने के बजाय उन्होंने अपनी ताकत लेफ्ट हैंड पर अपना पूरा ध्यान फोकस किया. उन्होंने मुकाबला जीत लिया. 4 साल बाद हेलिसंकि की मैं ओलंपिक गेम्स हुए और इस बार भी वही करिश्मा हुआ. जी हाँ फिर से वह गोल्ड मेडल जीते और वह भी अपने उल्टे हाथ (Left Hand) का इस्तेमाल करते हुए.

Moral : दोस्तों कहते हैं कि जिंदगी में हम सभी कई बार हार का सामना करते हैं. दबा हुआ महसूस करते हैं. ऐसा लगता है कि हम जिंदगी से हार गए हैं.

अपने आप पर रहम कर कहीं बर्बाद ना हो जाना. बस जल्दी से उठ खड़े हो जाओ और जो करना है वह अभी से करना शुरु कर दो. कहते हैं कि हमारी कामयाबी इसमें कहीं नहीं कि हम कभी गिरे ही नहीं बल्कि इस रवैया में है कि जब भी गिरे तो उठे जरूर. आपने एक छोटे बच्चे को तो देखा होगा कि जब वह चलना सीखता है तो बार बार बार बार और बार बार गिरता है लेकिन फिर उठ खड़ा हो जाता है चलने के लिए. फिर गिरता है फिर उठता है चलने के लिए और ऐसा करते हुए हम सभी चलना सीख जाते हैं. जरा सोचिए क्या कोई हमारे दिमाग की ताकत को भी छीन सकता है नहीं ना. तो फिर देर किस बात की उठिए और अपने सपने को पूरा करने में जुट जाइए.




“आप किसी Losser के पास जाओगे तो उसके पास List होगी बहानो की , कि मै इस वजह से Fail हुआ ,इस वजह से मै कुछ नहीं कर पाया |दूसरी तरफ आप winer की तरफ चले जाओ जिसके पास हज़ार वजह होंगी वो जो करना चाहता है न करने की ,सिर्फ एक वजह होगी जो वह करना चाहता है और वह कर जाएगा”


आपको हमारी यह Post कैसी लगी. नीचे दिए गए Comment Box में जरूर लिखें. यदि आपको हमारी ये Post पसंद आए तो Please अपने Friends के साथ Share जरूर करें. और हाँ अगर आपने अब तक Free e -Mail Subscription activate नहीं किया है तो नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up जरूर करें.

Happy Reading !

About the author

StayReading.com

StayReading.com का Main Motive ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रेरित करना और आगे बढ़ने में Help करना है। Inspirational और Motivational Quotes का अनमोल संग्रह है, जो आपको प्रेरित करेगा की आप अपने जीवन को नये अंदाज में देखें। हर Quotesऔर Stories का संग्रह आपके नज़रिए को व्यापक करती है और बताती है की पूर्ण इंसान बनने का मतलब क्या होता है। यह हमे सिखाती है की हम भी अपने जीवन में ज़्यदा प्रेम, साहस और करुणा कैसे हासिल कर सकते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Sponsors links

FREE Email Subscription