• Amul’s (अमूल) Success Story In India

    अमूल का अर्थ “अमूल्य” से है – जिसका मूल्य न लगाया जा सके। अमूल, गुजरात के आनंद नामक नगर में स्थित है। यह सहकारी आन्दोलन (Accessary Movement) लंबे समय में सफलता का एक Best Example है और विकासशील देशों (Developing Countries) में सहकारी उपलब्धि (Accessary Availabilty) के Best Examples में से एक है। अमूल ने भारत में श्वेत क्रान्ति (White Revolution) की नींव (Base) रखी जिससे भारत संसार का सर्वाधिक (Foremost) मात्रा वाला दुग्ध उत्पादक (Milk Manufacturer) देश बन गया। अमूल भारत का एक दुग्ध सहकारी (Accessary) आन्दोलन है। यह एक ब्रान्ड नाम है जो गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन (Marketing) संघ लिमिटेड नाम की सहकारी संस्था (Accessary Foundation) के Management में चलता है। गुजरात के लगभग 26 लाख दुग्ध उत्पादक सहकारी दुग्ध विपणन संघ लिमिटेड (Marketing union limited) के अंशधारी (Shareholders) हैं। अमूल (आणंद सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ) की स्थापना 14 दिसंबर,1946 में एक डेयरी यानी दुग्ध उत्पाद सहकारी आंदोलन

    Continue Reading Amul’s (अमूल) Success Story In India
    0 से करोड़पति बनने का सफर “Paytm CEO Vijay Shekhar Sharma”

    हिंदी माध्यम (Hindi Medium) में पढ़ने (Study) वाले बच्चो में यह अक्सर देखा गया है कि वे अंग्रेजी (English) भाषा को सही से समझ नहीं पाते लेकिन जिनको कुछ सिखने (Learn) की  जिज्ञासा (curiosity) हो तो वो अज्ञानता को दोष (Blame) नहीं देता बल्कि वह अपनी कमियों को दूर कर अपने लक्ष्य (Target) तक  पहुँच जाता हैl खुद की कमजोरी (Weakness) पर विजय (Victory) पाकर कैसे सफलता (Success) हासिल (Achieve) की जा सकती है ये Paytm के फाउंडर (Founder) और सीईओ “विजय शेखर शर्मा” से सीख सकते है। इनकी जीवन (Life) में एक दौर ऐसा भी था, जब इनकी जेब में खाना खाने के लिए पैसे भी नहीं होते थे। पेट भरने के लिए दोस्तों के यहां बहाने से पहुंच जाते थे और खाना खाते थे। लेकिन हिम्मत (Daring) नहीं हारी और मेहनत करने से कभी पीछे नहीं हटे। 2 लाख रुपए लगाकर One-97 नाम की कंपनी की शुरुआत करने वाले

    Continue Reading 0 से करोड़पति बनने का सफर “Paytm CEO Vijay Shekhar Sharma”
    Karoly (केरोली) Takacs Real Life Inspirational Hindi Story

    दोस्तों कहते हैं मन के हारे हार और मन के जीते जीत! जिंदगी में बहुत कुछ आपके साथ और आपके आसपास घटित होता है. लेकिन असल में महत्वपूर्ण यह है कि आपके मन में क्या घट रहा है. आज मैं आपको एक कहानी सुनाने जा रहा हूँ. यह कहानी है हंगरी सेना (Hungarian Army) के एक जवान केरोली (Karoly Takacs – Olympic Dream) की. माफ कीजिए यह कहानी नहीं हकीकत है. 28 वर्षीय केरोली हंगेरियन आर्मी (Hungarian Army) में सबसे उम्दा पिस्टल शूटर थे. बात है सन् (year) 1938 की उन्होंने बहुत सी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय शूटिंग प्रतिस्पर्धा जीती. सन् (year) 1940 में टोक्यो में होने वाले ओलंपिक गोल्ड में गोल्ड मेडल के लिए वह सबसे प्रबल दावेदारों में से एक थे. पर एक दिन उनके साथ एक बहुत ही बड़ी घटना घटी. उनके सभी ख्वाब मिट्टी में मिल गए. आर्मी की एक ट्रेनिंग के दौरान उनके हाथ में ग्रेनेड

    Continue Reading Karoly (केरोली) Takacs Real Life Inspirational Hindi Story